Page Nav

HIDE

Grid

GRID_STYLE

Pages

ब्रेकिंग

latest

*तालाब की तस्वीर बदल दी : अब भिलाई के सेक्टर 2 तालाब में छठपूजा को दूर-दूर से आते है श्रद्धालु*

  भिलाई : कभी गंदगी से बजबजाता तालाब में अब आप अपना प्रतिबिम्ब देख सकते हैं। अब शाम के वक्त यहां लोग सुकून के पल गुजारने आते हैं। जी हाँ, हम...

 


भिलाई : कभी गंदगी से बजबजाता तालाब में अब आप अपना प्रतिबिम्ब देख सकते हैं। अब शाम के वक्त यहां लोग सुकून के पल गुजारने आते हैं। जी हाँ, हम बात कर रहे हैं भिलाई के सेक्टर-2 तालाब की। भिलाई निगम के पूर्व मेयर 

देवेन्द्र यादव ने अपने संकल्प के तहत इस तालाब का काया कल्प कर दिया।


भिलाई नगर विधायक देवेंद्र यादव ने भिलाई की जनता से वादा किया था, जिसे उन्होंने समय पर पूरा किया। वादे के मुताबिक सेक्टर-2 तालाब का वृहद स्तर पर सौंदर्यीकरण किया गया। करीब एक करोड़ 44 लाख की लागत से छठ पर्व से पहले तालाब की पूरी तस्वीर बदल दी गई। यह तालाब पूरे शहर के लिए एक मॉडल है।



छठ पर्व पर पूजा करने के लिए यहां सैंकड़ों की संख्या में लोग आते हैं। इसका भूमिपूजन प्रदेश के गृहमंत्री ताम्रध्वज साहू ने किया। शहर के प्रसिद्ध तालाबों में से एक सेक्टर-2 तालाब को और अधिक आकर्षक बनाने के लिए यहां लैडस्केपिंग, ओपन जिम, खेलकूद सामग्री, रात्रि में रंगीन लाइट व भव्य प्रवेश द्वार बनाया गया। साथ ही आने वाले लोगों को शुद्ध पेयजल की भी व्यवस्था भी की गई।


आपको बता दे की मौजूदा छत्तीसगढ़ सरकार में 5 ऐसे बड़े चेहरे हैं जो भिलाई और आसपास के इलाकों से आते हैं। इनमे प्रदेश के गृहमंत्री ताम्रध्वज साहू भी हैं। इस तालाब का एक नया और अलग स्वरूप देखने के बाद गृहमंत्री ने भी इसकी तारीफ की थी। उन्होंने कहा था कि महापौर व विधायक देवेन्द्र यादव के प्रयास से शहर में निरंतर विकास की प्रक्रिया जारी है।  इससे अब भिलाई की खूबसूरती बढ़ने लगी है।


सुबह मॉर्निंग वॉक, शाम को सुकून

सेक्टर-2 तालाब को बापूनगर तालाब के जैसा सुंदर एवं आकर्षक बनाया गया है। इसे देखने के लिए अन्य क्षेत्र के भी लोग आते है। तालाब के चारों ओर सीमेंटीकरण, रंगीन पेवर ब्लॉक लगाए गये हैं, ताकि नागरिक सुबह शाम वॉकिंग कर सकें, ग्रीनरी के लिए लैण्डस्केप, भव्य प्रवेश द्वार और रंगीन लाइटें लोगों के आकर्षण का केंद्र हैं।  तालाब में पचरी निर्माण के साथ ही यहां सुरक्षा को भी ध्यान में रखा गया है साथ ही तालाब को भरने के लिए पानी की कमी न हो। इसके लिए बोर भी लगाया गया है। मनोरंजन के तहत बच्चों के खेलने के लिए खेल सामग्री, ओपन जिम, रात्रि में रोशनी के साथ ही सजावटी रंगीन लाइट लगाई गई है।

No comments