Page Nav

HIDE

Grid

GRID_STYLE

Pages

ब्रेकिंग

latest

*द बेस्ट इंस्टीट्यूट बनाने निभायें सहभागिता ; कोंडागांव जिला कलेक्टर ने ली एकलव्य आदर्श आवासीय विद्यालय संचालन समिति की बैठक*

रायपुर। कलेक्टर दीपक सोनी ने एकलव्य आदर्श आवासीय विद्यालय संचालन समिति की बैठक में जिले के अंतर्गत गोलावंड, शामपुर, चिचाड़ी, बेड़मा एवं कोरगां...



रायपुर। कलेक्टर दीपक सोनी ने एकलव्य आदर्श आवासीय विद्यालय संचालन समिति की बैठक में जिले के अंतर्गत गोलावंड, शामपुर, चिचाड़ी, बेड़मा एवं कोरगांव में संचालित एकलव्य आदर्श आवासीय विद्यालयों के प्राचार्यों से कहा कि अपने संस्थान को द बेस्ट इंस्टीट्यूट बनाने के लिए व्यापक सहभागिता निभायें। इस दिशा में बेहतर शैक्षणिक परिवेश निर्मित कर बच्चों को गुणवत्तापरक शिक्षा की सुलभता सहित खेलकूद एवं अन्य रचनात्मक गतिविधियों से जोड़कर उनके समग्र व्यक्तित्व विकास को सुनिश्चित किया जाये। इन संस्थानों में अध्ययनरत् छात्र-छात्राएं टॉप रैंकिंग में अपना स्थान बनायें, इस ओर संस्थान के सभी शिक्षक-शिक्षिकाएं टीम भावना के साथ बच्चों की बढ़ाई पर पूरा ध्यान केन्द्रीत करें। इन संस्थानों के छात्र-छात्राएं नीट, जेईई जैसी प्रवेश परीक्षाओं की बेहतर तैयारी कर चयनित हो सकें, इस दिशा में उक्त बच्चों को पाठ्यक्रम की पढ़ाई के साथ ही प्रतियोगी प्रवेश परीक्षाओं के लिए समुचित परीक्षा पूर्व प्रशिक्षण संबंधी सुविधाएं सुलभ करायी जाये।अद्योसंरचना विकास सहित आवश्यक संसाधन की सुलभता हेतु हरसंभव पहल।



कलेक्टर दीपक सोनी ने बैठक के दौरान जिले में संचालित सभी एकलव्य आदर्श आवासीय विद्यालयों के लिए अद्योसंरचना विकास तथा स्कूल भवन, छात्रावास सहित पेयजल-बिजली सुविधाओं की सुलभता के बारे में जानकारी ली और अद्योसंरचना विकास के साथ आवश्यक संसाधनों की सुलभता के लिए हरसंभव पहल करने कहा। उन्होने संस्थानों में आवश्यक फर्नीचर, कम्प्यूटर, सहित लायब्रेरी के लिए पुस्तकें तथा प्रयोगशाला एवं उपकरणों की उपलब्धता सुनिश्चित किये जाने के निर्देश अधिकारियों को दिये। वहीं बच्चों के लिए आवश्यक सामग्री की सुलभता सहित गुणवत्तापूर्ण नाश्ता-भोजन सुलभ कराये जाने कहा। कलेक्टर श्री सोनी ने इन संस्थानों में उपलब्ध मानव संसाधन का समुचित उपयोग करने पर बल देते हुए शिक्षक-शिक्षिकाओं को बच्चों के साथ पालकों की तरह भूमिका निभाने कहा। वहीं छात्र-छात्राओं को उनकी रूचि के अनुरूप व्यावसायिक प्रशिक्षण प्रदान किये जाने के निर्देश दिये। उन्होने अधीक्षक-अधीक्षिकाओं के द्वारा बच्चों की समुचित देखरेख एवं सुरक्षा सुनिश्चित कराये जाने कहा। बैठक के दौरान भवन निर्माण तथा आवश्यक सुविधाओं के विकास कार्यों को जल्द पूर्ण करने के निर्देश अधिकारियों को दिये गये। बैठक में संयुक्त कलेक्टर एवं सहायक आयुक्त आदिवासी विकास मनोज कोसरिया, सहायक संचालक आदिवासी विकास संकल्प साहू सहित जिले में पदस्थ मंडल संयोजक और एकलव्य आदर्श आवासीय विद्यालयों के प्रधानाचार्य मौजूद रहे।

No comments