Page Nav

HIDE

Grid

GRID_STYLE

Pages

ब्रेकिंग

latest

*बहादुर कलारिन जयंती पर ऐच्छिक अवकाश और महुआ बोर्ड की होगी स्थापना, कलार महासम्मेलन में सीएम भूपेश बघेल ने की घोषणा*

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल आज रायपुर के साइंस कॉलेज मैदान में आयोजित कलार महासम्मेलन में शामिल हुए। इस दौरान उन्होंने लोगों को संबोधित क...



रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल आज रायपुर के साइंस कॉलेज मैदान में आयोजित कलार महासम्मेलन में शामिल हुए। इस दौरान उन्होंने लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि उद्योग-व्यापार में कलार समाज को नकारा नहीं सकता। लेकिन शिक्षा के बिना किसी भी समाज का विकास नहीं हो सकता हर समाज के लिए शिक्षा अत्यंत जरूरी है और जिस समाज ने भी शिक्षा को नहीं अपनाया वो समाज पिछड़ गया है। इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने दो बड़ी घोषणाएं भी की। उन्होंने कहा कि प्रदेश में जल्द ही महुआ बोर्ड की स्थापना की जाएगी। साथ ही उन्होंने महिला सशक्तिकरण के लिए समाज की पूज्यनीय माता बहादुर कलारिन के योगदान को अतुलनीय बताया और उनकी जयंती पर ऐच्छिक अवकाश का प्रावधान किए जाने की घोषणा की।


मुख्यमंत्री ने कहा कि सरकार ने पिछले चार वर्षों में प्रदेश के हर समाज के व्यक्ति को केन्द्र में रखकर योजनाएं शुरू की हैं ताकि हर समाज के लोग लाभान्वित हो सकें। उन्होंने कहा कि अगर लोगों को योजनाओं का लाभ नहीं मिले तो मजबूत छत्तीसगढ़ की कल्पना कभी नहीं हो सकती। इसलिए समाज के अंतिम व्यक्ति के जेब में भी पैसा जाए सरकार ने इसका प्रावधान किया है जिससे प्रदेश निरंतर प्रगति करता रहे। उन्होंने कहा कि छत्तीसगढ़ में अलग-अलग समाज के लोग रहते हैं और सभी आपस में मिलजुलकर रहते हैं और यही छत्तीसगढ़ को मजबूती प्रदान करती है।


कलार महासम्मेलन के आयोजन अवसर पर संसदीय सचिव विकास उपाध्याय, विधायक मोहन मरकाम, विधायक विनय जायसवाल, विधायक संगीता सिन्हा, रायपुर महापौर ऐजाज ढेबर, रिसाली महापौर शशि सिन्हा, कलार महासभा छत्तीसगढ़ के अध्यक्ष दीपक सिन्हा, कलार महासम्मेलन संयोजक समिति के अध्यक्ष राजा जायसवाल समेत अन्य पदाधिकारी और कलार समाज के सदस्य उपस्थित थे

No comments