Page Nav

HIDE

Grid

GRID_STYLE

Pages

ब्रेकिंग

latest

कलेक्टर के निर्देश पर नया तालाब निर्माण से पानी बहने की शिकायत पर मौके में पहुंचे अधिकारी

  निर्माण कार्य का भुगतान ग्रामीणों को उनके बैंक खाते में होने के साथ  नही मिली कोई अनियमितता क्षमता से अधिक जलभराव के कारण तालाब को हुआ न...

 


निर्माण कार्य का भुगतान ग्रामीणों को उनके बैंक खाते में होने के साथ  नही मिली कोई अनियमितता

क्षमता से अधिक जलभराव के कारण तालाब को हुआ नुकसान

कवर्धा । कलेक्टर श्री जनमेजय महोबे ने महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी योजना अंतर्गत जनपद पंचायत बोड़ला के ग्राम पंचायत तितरी के आश्रित ग्राम उमरिया में नया तालाब निर्माण कार्य मे वर्षा से क्षति होने की सूचना को संज्ञान में लिया है। कलेक्टर ने इस संबन्ध में अनुविभागीय अधिकारी ग्रामीण यांत्रिकी सेवा उप संभाग बोड़ला एवं दो तकनीकी सहायकों के द्वारा मौके पर उपस्थित होकर नए तालाब की क्षति एवं आसपास में हुए नुकसान के हर पहलुओ पर जांच के निर्देश दिए। कलेक्टर के निर्देश पर अधिकरियों ने कार्य एवं स्थल का निरीक्षण किया। इस संबंध में प्राप्त जानकारी अनुसार तालाब की स्वीकृती 12 लाख 17 हजार रुपए की लागत से मनरेगा योजना में हुई है। कार्य अभी पूरा नही हुआ है और प्रगति पर है। इस कार्य में 5196  मानव दिवस का रोजगार ग्रामीणों को मिला है। इसके एवज में ग्रामीणों को 10 लाख 60 हजार रुपए का मजदूरी भुगतान उनके बैंक खाते में आधार बेस्ड पेमेंट के माध्यम से हुआ है। अनुविभागीय अधिकारी ग्रामीण यांत्रिकी सेवा उप संभाग बोड़ला ने  आगे बताया कि इस तालाब की कुल लंबाई 80 मीटर चौड़ाई 60 मीटर एवं गहराई 1.50 मीटर है तथा इसमें 7200 घन मीटर जलभराव की क्षमता है। विगत दिनों लगातार वर्षा होने एवं पानी का बहाव अत्यधिक होने के कारण इस तालाब में 8500 घन मीटर पानी जमा हो गया था। साथ ही निर्माण कार्य अधूरा होने के कारण इसके उलट क्षेत्र में लगभग 10 फीट मिट्टी पानी में बह गया। आगे बताया गया कि इस नया तालाब निर्माण का कार्य अभी अधूरा है क्योंकि ग्राम पंचायत में स्वीकृत अन्य कार्यों में ग्रामीणों द्वारा कार्य किया जा रहा था। इस तालाब में उलट सहित बड का कंपक्शन नही हुआ है जिसे आगे पूरा किया जाना शेष है। निर्माण कार्य में किसी भी प्रकार की अनियमितता नहीं पाया गया क्योंकि कार्य मजदूरों द्वारा किया जाकर भुगतान उनके बैंक खातों में सीधे किया गया है। उल्लेखनीय है कि इस कार्य का परीक्षण कार्यपालन अभियंता स्तर के अधिकारी से भी कराए जाने की जानकारी प्राप्त हुई है जिससे की कार्य का बेहतर क्रियान्वयन किया जा सके।

No comments