Page Nav

HIDE

Grid

GRID_STYLE

Pages

ब्रेकिंग

latest

IAS रानू साहू को गिरफ्तार कर ईडी ले गई कोर्ट

   रायपुर। छत्तीसगढ़ में प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) की टीम ने आइएएस रानू साहू को गिरफ्तार कर कोर्ट में पेश किया है। आइएएस रानू साहू विशेष न्याय...

 

 रायपुर। छत्तीसगढ़ में प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) की टीम ने आइएएस रानू साहू को गिरफ्तार कर कोर्ट में पेश किया है। आइएएस रानू साहू विशेष न्यायाधीश अजय सिंह राजपूत की कोर्ट में पेश किया गया। है। सुनवाई के बाद ईडी ने 14 दिन की रिमांड मांगी थी, लेकिन कोर्ट नें 3 दिन की रिमांड को मंजूरी दी है। वहीं आइएएस रानू साहू को ईडी 25 जुलाई को फिर से कोर्ट में पेश करेगी। बता दें इससे पहले शनिवार को सुबह आठ बजे रानू साहू को ईडी दफ्तर में पूछताछ के लिए बुलाया गया। आइएएस रानू साहू पर कोयला परिवहन से लेकर डीएमएफ और सार्वजनिक खाद्य वितरण (पीडीएस) में भ्रष्टाचार करने का आरोप है। रानू साहू छत्तीसगढ़ की दूसरी IAS ऑफिसर हैं जिन्हें प्रवर्तन निदेशालय ने गिरफ्तार किया। इससे पहले आइएएस समीर विश्नोई गिरफ्तार हो चुके हैं और कोयला घोटाला मामले में फिलहाल रायपुर की सेंट्रल जेल में बंद हैं। रानू साहू वर्तमान में कृषि विभाग में संचालक के पद पर पदस्थ थीं। इससे पहले रानू रायगढ़ जिले की कलेक्टर रह चुकी हैं। आईएएस रानू साहू के वकील फैजल रिजवी ने बताया "कोल से संबंधित इसएसआर है 9/2022 उसी में इनको लाए गया है और पूर्व में भी इनको बुलाया गया था। अक्टूबर 2022 से लेकर जनवरी 2023 तक बुलाया गया और जब जब इन्हें बुलाए गया है इन्होंने सहयोग किया है। जनवरी 2023 के बाद से आज तक इनको कोई भी समन नहीं दिया गया है। शुक्रवार को अचानक ईडी की टीम ने उन्हें हिरासत में लेकर आज कोर्ट में पेश किया है। वकील फैजल रिजवी ने बताया कि रानू साहू पर आरोप लगाया गया है कि जब वे कोरबा में कलेक्टर थी, उसमें दो लोगों के वाट्सएप चैट सामने आए है व एक डायरी जब्त की गई है, जिसमें आर एस लिखा हुआ, जिसके आधार पर उनको अरेस्ट किया गया है।  बता दें कि ईडी की टीम ने छत्तीसगढ़ में 21 जुलाई को तड़के सुबह 14 ठिकानों पर ताबड़तोड़ छापेमारी कार्रवाई की थी। छापेमारी के दौरान जांच में टीम ने बड़ी मात्रा में दस्तावेज बरामद किए हैं, वहीं मोबाइल फोन से लेकर कम्प्युटर, लैपटाप से भी जानकारी जुटाई गई है। ईडी ने राजधानी रायपुर में जिन प्रमुख ठिकानों पर दबिश दी है, उनमें प्रदेश कांग्रेस कोषाध्यक्ष रामगोपाल अग्रवाल के अनुपम नगर स्थित निवास और उनके बेटे के सिविल लाइन कार्यालय में दस्तावेजों की छानबीन की जा रही है। देवेंद्र नगर आफिसर्स कालोनी में आइएएस रानू साहू, ठेकेदार सुनील रामदास अग्रवाल के जोरा कार्यालय और अनुपम नगर घर में कार्रवाई जारी है। इसके अलावा कोरबा में नगर-निगम कमिश्नर प्रभाकर पांडेय के सरकारी आवास और कार्यालय से ईडी ने बड़ी मात्रा में दस्तावेज बरामद किए हैं। छापेमारी कार्रवाई में ईडी की 80 सदस्यीय टीम अलग-अलग स्थानों पर मौजूद हैं। इनमें राजधानी के अलावा कोरबा, अंबिकापुर, बिलासपुर, राजनांदगांव व रायगढ़ स्थित ठिकानों पर जांच हो रही है। ईडी ने नेता, अधिकारी और कारोबारियों के संगे-संंबंधियों की भी जानकारी जुटाई है।

No comments