Page Nav

HIDE

Grid

GRID_STYLE

Pages

ब्रेकिंग

latest

दसवीं-बारहवीं पूरक परीक्षा में 20 प्रतिशत से अधिक छात्र उत्‍तीर्ण

  रायपुर।  माध्यमिक शिक्षा मंडल (माशिमं) की ओर से दसवीं-बाहरवीं पूरक परीक्षाओं के नतीजे जारी कर दिए गए हैं। दसवीं की पूरक परीक्षा में 20.27 ...

 

रायपुर।  माध्यमिक शिक्षा मंडल (माशिमं) की ओर से दसवीं-बाहरवीं पूरक परीक्षाओं के नतीजे जारी कर दिए गए हैं। दसवीं की पूरक परीक्षा में 20.27 प्रतिशत और बारहवीं में 25.24 प्रतिशत छात्रों ने पूरक परीक्षा में सफलता पाई है। दसवीं पूरक परीक्षा के लिए 31,563 छात्रों ने आवेदन किया था, जिसमें 30,664 छात्रों ने परीक्षा दी। दसवीं पूरक परीक्षा में 16,228 छात्र और 14,436 छात्राएं शामिल हुई। परीक्षा में शामिल हुए छात्रों में से 30,649 उत्तीर्ण हुए। 453 छात्र प्रथम, 4,958 द्वितीय और 802 छात्र तृतीय श्रेणी में उत्तीर्ण होने में कामयाब रहे। इसके अलावा 16 छात्रों के परीक्षा परिणाम रोके गए है। जिनमें सात छात्रों को नकल करते पकड़ा गया है। वहीं नौ परीक्षार्थियों के परिणाम बाद में घोषित किए जाएंगे। इसी प्रकार बारहवीं पूरक परीक्षा के लिए 29,230 छात्रों ने आवेदन किया था, जिसमें 28,209 छात्र-छात्राएं परीक्षा में शामिल हुए। परीक्षा में शामिल परीक्षार्थियों में से 330 प्रथम, 5,519 द्वितीय और 1,257 छात्र-छात्राएं तृतीय श्रेणी में उत्तीर्ण हुए है। 24 परीक्षार्थियों के परीक्षा परिणाम रोके गए है। पूरक परीक्षा के परिणाम देखने के लिए परीक्षार्थी छत्‍तीसगढ़ बोर्ड की वेबसाइट https://www.cgbse.nic.in पर जाकर देख सकते हैं। दसवीं-बारहवीं बोर्ड परीक्षाओं के टाप-10 मेरिट लिस्ट में आधा दर्जन से ज्यादा छात्रों के नाम शामिल हुए है।माशिमं की तरफ से जल्द ही स्थायी मेरिट लिस्ट जारी की जाएगी। बोर्ड परीक्षाओं के नतीजों के बाद छात्रों ने पुनर्गणना-पुनर्मूल्यांकन के लिए आवेदन किए थे। पुनर्गणना-पुनर्मूल्यांकन के बाद लगभग एक हजार छात्रों के नंबर बढ़े है। नंबर बढ़ने से कई छात्र फेल से पास हो गए। कई को पूरक की पात्रता मिली है। कुछ ऐसे भी छात्र है जिनके नंबर बढ़ने के कारण मेरिट लिस्ट में शामिल होने की संभावना है। दसवीं-बारहवीं बोर्ड परीक्षाओं के नतीजे मई में माशिमं ने जारी किया था। बोर्ड की तरफ से अस्थाई मेरिट लिस्ट जारी की गई थी, जिसमें दसवीं में 48 और बारहवीं में 30 छात्र थे। इन छात्रों को हेलीकाप्टर राइड भी करवाई जा चुकी है। मुख्यमंत्री निवास में डेढ़ लाख रुपये की प्रोत्साहन राशि भी दी जा चुकी है। अधिकारियों ने बताया कि अस्थाई मेरिट लिस्ट से किसी भी छात्र का नाम नहीं हटाया जाएगा। हर वर्ष मेरिट लिस्ट में नाम जुड़ते हैं।जिन छात्रों के नाम मेरिट लिस्ट में जुड़ेगे उन्हें भी डेढ़ लाख रुपये की प्रोत्साहन राशि दी जाएगी। गौरतलब है कि सीजी बोर्ड के तहत इस बार दसवीं में 75.05 प्रतिशत और बारहवीं में 79.96 प्रतिशत छात्र पास हुए है।

No comments