Page Nav

HIDE

Grid

GRID_STYLE

Pages

ब्रेकिंग

latest

दो चचेरी बहन सहित तीन बालिकाओं की कुएं में डूबने से मौत

  अंबिकापुर । सरगुजा जिले के लुंड्रा थाना क्षेत्र के ग्राम बकनाकला में कुएं में डूबने से दो चचेरी बहन सहित तीन बालिकाओं की मौत हो गई।तीनों क...

 

अंबिकापुर । सरगुजा जिले के लुंड्रा थाना क्षेत्र के ग्राम बकनाकला में कुएं में डूबने से दो चचेरी बहन सहित तीन बालिकाओं की मौत हो गई।तीनों का शव बरामद कर लिया गया है।घटना से गांव में शोक का माहौल है।तीनों बालिकाओं का शव कुएं के पानी के ऊपर आ जाने के कारण घटना का पता चला। जानकारी के अनुसार बकनाकला गांव के किनारे खेतों के आसपास एक असुरक्षित कुआं है। खुले कुएं में सुरक्षा के कोई प्रबंध नहीं हैं।इसके ऊपरी हिस्से का आकार काफी बड़ा है। यह डबरी सदृश्य नजर आता है। बताया जा रहा है कि इसी कुएं में शुक्रवार की शाम गांव की ही रेणुका पिता ननकू (4) की तैरती लाश ग्रामीणों ने देखी। सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची और शव को बाहर निकलवाया। इधर उसकी चचेरी बहन गीता पिता चुकलु (6) तथा सोहरी नगेशिया पिता मुखदेव (12) भी घर नहीं पहुंची थी। इनकी खोजबीन भी की गई लेकिन कुछ पता नहीं चला। घरवालों तलाश में थे । उन्हें संदेह था कि हो सकता है कि ये दोनों बालिकाएं भी कुएं में डूबी होगी। इसी संदेह पर घरवालों ने फिर कुएं के पास जाकर देखा तो दोनों बालिकाओं का शव पानी में तैरता दिखा। तत्काल सूचना पुलिस को दी गई। पुलिस की टीम भी मौके पर पहुंची और ग्रामीणों के सहयोग से दोनों बालिकाओं का शव बाहर निकलवाया। घटना को लेकर पुलिस का कहना है कि तीनों बालिकाओं के अलावा गांव की एक-दो और बालिकाएं भी शुक्रवार की सुबह घर से निकली थी। इनमें से एक का तो शव मिल गया लेकिन दो बालिकाओं का पता नहीं चला। पुलिस ने संभावना जताई जा रही है कि सबसे छोटी बालिका रेणुका संभवतः नहाने के लिए उतरी थी। वह डूबने लगी होगी तो उसकी चचेरी बहन गीता और सोहरी भी उसे बचाने के लिए कुएं में उतरी लेकिन बचा नहीं सकी। तीनों की डूबने से मौत हो गई। छोटी बालिका का शव तो शुक्रवार को ही पानी के ऊपर आ गया था लेकिन दो बालिकाओं का शव शनिवार को ऊपर आ गया था। कोई प्रत्यक्षदर्शी नहीं होने के कारण अभी संभावना जताई जा रही है। इस दुखद हादसे से गांव में शोक की लहर है।

No comments