Page Nav

HIDE

Grid

GRID_STYLE

Pages

ब्रेकिंग

latest

प्रापर्टी डीलर के घर 30 लाख के जेवर और नकदी चोरी करने वाले आरोपित पति-पत्नी गिरफ्तार

 रायपुर । प्रापर्टी डीलर के घर 30 लाख के जेवर और नकदी चोरी करने वालो आरोपित पति-पत्नी को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। आरोपित अविनाश गिरी गोस्व...

 रायपुर । प्रापर्टी डीलर के घर 30 लाख के जेवर और नकदी चोरी करने वालो आरोपित पति-पत्नी को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। आरोपित अविनाश गिरी गोस्वामी और उसकी पत्नी बिंदिया गोस्वामी उर्फ बिंदी को गिरफ्तार किया गया है। आरोपित अविनाश गिरी गोस्वामी थाना कोतवाली जिला महासमुंद का हिस्ट्रीशीटर है। 10 दिन पहले ही चोरी के मामले से जेल से छूट कर आया था।  आरोपित की पत्नी बिंदिया प्रापर्टी डीलर के घर बाई का काम करती थी। आरोपित यहां से चोरी करने के बाद फरार हो गए थे। उन्हें कांकेर से गिरफ्तार किया। आरोपितों के कब्जे से चोरी की नकदी रकम 11 लाख 69 रुपये, सोने के ब्रेसलेट, तीन घड़ी और चोरी के पैसों से क्रय किया गया सोने के जेवरात, एक दोपहिया वाहन, आलमारी, पलंग, फ्रीज, वाशिंग मशीन, गद्दा, मिक्सी, पंखा, टीवी, होम थियेटर एवं अन्य सामान जब्त किया गया है। सिविल लाइन थाने में प्रार्थी दीपक गाइन ने 23 दिसंबर को चोरी की रिपोर्ट दर्ज करवाई थी। वे न्यू शांति नगर गली नंबर 02 सिविल लाइन में रहता हैं और प्रापर्टी डीलिंग, मछली पालन एवं सब्जी का व्यवसाय करते हैं। प्रार्थी का दो मंजिला मकान है, जिसमें प्रार्थी अपने परिवार के साथ ऊपर रहता है। नीचे उसका आफिस है। प्रार्थी के साथ उसका भतीजा पिंटू गाइन भी रहता है। प्रार्थी के घर में तीन मेड काम करते हैं। घटना की रात 11.15 बजे के आस-पास प्रार्थी घर में था उसी समय मकान में धुंआ फैल रहा था। नीचे प्रथम तल में जाकर देखा तो आफिस का ताला टूटा हुआ था। प्रार्थी कमरे में जाकर देखा तो आग जल रही थी आफिस की आलमारी का लाकर टूटा हुआ था, कम्प्यूटर, हार्ड डिस्क एवं कैमरा का पाइंट एवं अन्य दस्तावेज जल गए थे। दूसरे कमरे में जाकर देखा तो वहां रखा आलमारी का ताला टूटा हुआ था। आलमारी में रखी नकदी रकम, सोने की चैन, एक सोने का ब्रेसलेट, दो चांदी का सिक्का और कमरे में रखा एक नग मोबाईल फोन नहीं था। रिपोर्ट के बाद पुलिस ने जांच शुरू कर दोनों को गिरफ्तार किया। आरोपित अविनाश गिरी गोस्वामी ने कुछ माह पूर्व अपनी भाभी बिंदिया गोस्वामी उर्फ बिंदी से शादी की थी। आरोपित परिवार से अलग रहता था। पिछले दिनों वह चोरी के मामले में जेल गया था। इसके बाद से बिंदिया प्रापर्टी डीलर के घर काम कर रही थी। उसे सब पता था कि घर में कहां पैसे रखे रहते हैं और किस-किस जगह में सीसीटीवी लगा है। उसका पता जैसे ही जेल से छूटा उसने नौ दिसंबर को काम छोड़ दिया। इसके बाद पति अविनाश को प्रापर्टी डीलर के घर के बारे में बताया। आरोपित ने योजना बनाकर चोरी की वारदात की और फरार हो गया।

No comments