Page Nav

HIDE

Grid

GRID_STYLE

Pages

ब्रेकिंग

latest

चौकाने वाला खुलासा : जिसे मृतक समझ रही थी पुलिस, वही निकला कातिल

   जांजगीर-चांपा। भारत माला रोड में पंतोरा के छाता जंगल के पास सोमवार की रात एक आटो चालक के सिर को पत्थर से कुचलकर की गई हत्या के मामले में ...

 

 जांजगीर-चांपा। भारत माला रोड में पंतोरा के छाता जंगल के पास सोमवार की रात एक आटो चालक के सिर को पत्थर से कुचलकर की गई हत्या के मामले में नया मोड़ आ गया है। पुलिस जिसे मृतक समझ रही थी वही हत्या का आरोपित निकला। आटो चालक ने ही सवारी की हत्या कर उसे अपने कपड़े पहना दिया था और खुद की हत्या बताने की साजिश रची थी। यहां तक उसके स्वजन ने उसकी शिनाख्त भी कर ली और उसको दफना भी दिया।पुलिस ने आटो चालक को गिरफ्तार कर लिया है। जानकारी के अनुसार ग्राम ढेका जिला बिलासपुर निवासी युवक शंकर शास्त्री (36) पिता जगजीवन बिलासपुर में आटो रिक्शा चलाता था। सोमवार 25 दिसंबर की सुबह वह अपने घर से आटो क्रमांक सीजी 10 एई 9477 को लेकर निकला था। रात लगभग 8 बजे वह बिलासपुर रेलवे स्टेशन से आटो लेकर निकला लेकिन घर वापस नहीं पहुंचा। स्वजन के द्वारा फोन लगाने पर भी फोन नहीं उठाया।   मंगलवार की सुबह कोरबा पंतोरा मार्ग में छाता जंगल के पास भारत माला रोड में खून से लथपथ उसका शव लोगों ने देखा। उसका सिर कुचला हुआ था। वही उसकी आटो रिक्शा भी रोड में पलटी हुई थी। सूचना मिलने पर पंतोरा चौकी प्रभारी दिलीप सिंह व अन्य पुलिस की टीम मौके पर पहुंची। घटना स्थल पर डाग स्कवायड और साथ ही बिलासपुर से फारेंसिंक एक्सपर्ट की टीम भी बुलाई गई। बारिकी से घटना स्थल का मुआयना किया गया। पुलिस को मौके से शराब की बोतल और फल्ली भी पड़े हुए मिले । इससे आशंका जताई गई कि शराब पीने के दौरान हुए विवाद के बाद युवक की हत्या की गई होगी। सूचना मिलने पर स्वजन भी वहां पहुंच गए और मृतक की पहचान आटो चालक के रूप में की गई और शव उसके परिवार को पीएम के बाद सौंप दिया। विवेचना शुरू हुई तो मामले ने नया मोड़ ले लिया। पुलिस ने मोबाइल डिटेल निकाला और सीसी फुटेज खंगाले गए तो पता चला कि मृतक और एक अन्य व्यक्ति का मोबाइल एक साथ घटना स्थल पर बन्द हुआ है। पुलिस ने दोनों नम्बर का डिटेल निकाला तो ऑटोचालक का मोबाइल। कुछ समय के लिए चालू मिला पुलिस ने लोकेशन ट्रेस कर उसे कोरबा से गिरफ्तार किया। पुलिस ने उससे पूछताछ की तो वह खुद को सवारी बताया और ऑटो चालक की हत्या करना बताया जबकि वह खुद आटो चालक था। पहचान छिपाने उसने अपना मुंडन भी करा लिया था। अब इस मामले ने नया मोड़ ले लिया है। जिसे पुलिस मृतक समझ रही थी वही कातिल निकला। बहरहाल पुलिस ने ऑटोचालक को गिरफ्तार कर लिया है और मृतक के शव को कब्र खोदकर उसके वास्तविक स्वजन को देने की तैयारी की जा रही है।पुलिस आज इस मामले का पर्दाफाश दोपहर में करेगी।

No comments