Page Nav

HIDE

Grid

GRID_STYLE

Pages

ब्रेकिंग

latest

रायपुर के व्यापारी की हत्या की सुपारी देने वाला ट्रांसपोर्टर ओडिशा से गिरफ्तार

   रायपुर। राजधानी रायपुर के लाभांडी में कारोबारी को गोली मारने के मामले में हत्या की सुपारी देने वाले ट्रांसपोर्टर संतोष सिंह को ओडिशा के स...

 

 रायपुर। राजधानी रायपुर के लाभांडी में कारोबारी को गोली मारने के मामले में हत्या की सुपारी देने वाले ट्रांसपोर्टर संतोष सिंह को ओडिशा के सुंदरगढ़ से हिरासत में ले लिया गया है। ट्रांसपोर्टर को लेकर रायपुर पुलिस आरोपित शूटर अमन शर्मा के सामने बैठाकर पूछताछ करेगी। रायपुर के तेलीबांधा थाना क्षेत्र में गोली कांड में हार्डवेयर व्यापारी संदीप कुमार जैन पर ओडिशा के ट्रांसपोर्टर संतोष सिंह ने गोली चलवाई है। गिरफ्तार आरोपित अमन शर्मा ने पूछताछ में पुलिस को इस बात की जानकारी दी है। आरोपित को इस काम को पूरा करने के लिए तीन लाख रुपये मिलने थे। एडवांस में आधी रकम दे दी गई थी। अमन के होटल में रुकने की व्यवस्था भी संतोष सिंह ने ही करवाई थी। वह तीन दिन पहले से रायपुर में आ गया था। संतोष सिंह संदीप कुमार से पैसे देने की बात कह रहा था। ऐसा नहीं करने करने पर अंजाम भुगतने की भी धमकी दी थी। बुधवार को घर से महज 200 मीटर दूरी पर अमन ने फायरिंग कर दी। आरोपित के साथ कितने लोग शामिल हैं इसकी पतासाजी की जा रही है। वहीं, घायल संदीप के होश में आने के बाद पूछताछ करेगी। आरोपित बुधवार सुबह लगभग 10 बजे होटल से निकला। इसके बाद उसने जयस्तंभ चौक से आटो बुक की और लाभांडी चौक पहुंचा। इसके बाद वह वहां से रोमंस क्यू कालोनी की ओर गया। व्यापारी संदीप कुमार जैन के घर से कुछ दूरी पर खड़े होकर उसने फोन किया और मिलने के लिए कहा। संदीप मिलने के लिए अपनी एक्टिवा से पहुंचा तो उसने फायर कर दिया, जिसमें एक मिस फायर हुआ वहीं दूसरी गोली उसके सीने में लग गई। गोली लगने के बाद भी संदीप ने अमन को पकड़ लिया। अमन जब तक वहां से अपने आप छुड़ाकर भागता तब तक आसपास के दुकान संचालकों ने उसे घेर लिया। इसके बाद पुलिस को इसकी सूचना दी गई। अमन के पकड़े जाने के बाद ओडिशा के ट्रांसपोर्टर की गिरफ्तारी के लिए तत्काल एक टीम को ओडिशा रवाना कर दिया गया। हालांकि खबर जैसे ही फैली इस बात की भनक उसे लग गई और वह अपना नंबर बंद कर फरार हो गया। पुलिस उसके ठिकाने पर छापेमारी कर रही है। आरोपित के पास एक पिस्टल और एक कट्टा था। वह तीन दिन से शहर में अवैध हथियार लेकर रह रहा था। घटना के समय पिस्टल के साथ उसके पास कट्टा भी था। जैसे ही लोगों ने उसे पकड़ा तो उसने कट्टा दूर फेंक दिया। और पिस्टल को लोगों ने छीन कर पुलिस को दे दिया। पुलिस ने उसके पास से पिस्टल, कट्टा और दो जिंदा कारतूस जब्त किए हैं। राजधानी रायपुर में एक युवक को सरेआम गोली मारे जाने की कांग्रेस ने कड़ी निंदा करते हुए चिंता व्यक्त की है। प्रदेश कांग्रेस संचार विभाग के अध्यक्ष सुशील आनंद शुक्ला ने आरोप लगाया है कि राजधानी में गोली बारी भाजपा के जंगल राज की धमक है। बेहद ही दुर्भाग्यजनक है। उन्होंने कहा कि प्रदेश में अपराधियों के हौसले बुलंद हो गए हैं अपराधी बेलगाम हो चुके है सरेआम लोगो की हत्याएं की जा रही है, गोलियां चल रही हैं। पुलिस पूछताछ में आरोपित अमन शर्मा ने बताया कि वह मौदहापारा थाना क्षेत्र के मीरा होटल में तीन दिन पहले आकर रूका था। इसके बाद वह कारोबारी के घर दो दिनों तक रेकी की। बुधवार सुबह जब फोन में बात करने के बाद संदीप घर से महज 200 मीटर की दूरी पर पहुंचा था, तभी उसने पिस्टल से फायर कर दिया। एएसपी रायपुर लखन पटले ने कहा, आरोपित से पूछताछ की जा रही है। उसने पैसे के लेनदेन की बात बताई है। मुख्य आरोपित की गिरफ्तारी के बाद असली वजह का पता चल सकेगा।

No comments