Page Nav

HIDE

Grid

GRID_STYLE

Pages

ब्रेकिंग

latest

जेपी नड्डा से मिले शिवराज सिंह चौहान

  भोपाल। मध्य प्रदेश में मंत्रिमंडल के पहले विस्तार में संभावित मंत्रियों के नामों पर चर्चा के बाद पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान का रा...

 

भोपाल। मध्य प्रदेश में मंत्रिमंडल के पहले विस्तार में संभावित मंत्रियों के नामों पर चर्चा के बाद पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान का राजनीतिक पुनर्वास भी जल्द हो सकता है। पार्टी हाईकमान ने चर्चा के लिए उन्हें दिल्ली बुलाया है। शिवराज सिंह चौहान ने भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड़्डा से मुलाकात की। शिवराज इस मुलाकात के लिए मंगलवार दोपहर पहुंचे। मुलाकात के बाद मीडिया से बातचीत में श‍िवराज ने कहा कि नड्डा से मध्‍य प्रदेश मंत्रिमंडल के साथ ही अन्‍य विषयों पर भी चर्चा हुई। उन्‍होंने कहा कि लोकसभा चुनाव में मेरी जो भी भूमिका तय होगी उस पर काम करूंगा। उन्‍होंने कहा कि मोहन यादव मप्र के मुख्‍यमंत्री हैं। हमें उनके साथ काम करना है। मुलाकात के बाद मीडिया से बातचीत में श‍िवराज ने कहा कि नड्डा से मध्‍य प्रदेश मंत्रिमंडल के साथ ही अन्‍य विषयों पर भी चर्चा हुई। उन्‍होंने कहा कि लोकसभा चुनाव में मेरी जो भी भूमिका तय होगी उस पर काम करूंगा। उन्‍होंने कहा कि मोहन यादव मप्र के मुख्‍यमंत्री हैं। हमें उनके साथ काम करना है। इस मौके पर श‍िवराज ने मप्र की विकास यात्रा का भी उल्‍लेख किया। मैं अपने बारे में कभी नहीं सोचता।अगले काम के बारे में चर्चा हुई, मेरा काम पार्टी तय करेगी। पार्टी का काम मेरे लिए मिशन है। मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री व भाजपा के वरिष्ठ नेता शिवराज सिंह चौहान ने नड्डा से मुलाकात पर कहा कि एक पार्टी कार्यकर्ता के तौर पर पार्टी मेरे लिए जो भी भूमिका तय करेगी, वह काम मैं करूंगा, मैं राज्य के साथ-साथ केंद्र में भी रहूंगा। यदि आप किसी बड़े मिशन पर काम कर रहे हैं, तो पार्टी ही तय करती है कि आप कहां काम करेंगे... माना जा रहा है कि जेपी नड्डा से भेंट के बाद शिवराज सिंह की नई जिम्मेदारी को लेकर निर्णय हो सकता है। उन्हें केंद्रीय मंत्रिमंडल में जगह मिल सकती है या फिर कुछ महीने बाद होने वाले लोकसभा चुनाव के लिए पार्टी संगठन में बड़ी जिम्मेदारी दी जा सकती है। वह इससे पहले भी पार्टी में राष्ट्रीय सचिव व अन्य दायित्व निभा चुके हैं। पांच बार सांसद रहने के कारण उन्हें लोकसभा चुनावों का भी अच्छा अनुभव है।

No comments