Page Nav

HIDE

Grid

GRID_STYLE

Pages

ब्रेकिंग

latest

हसदेव अरण्य में प्रभावितों से मुलाकात कर सकते हैं कांग्रेस नेता राहुल गांधी

  रायपुर । सरगुजा जिले के हसदेव अरण्य क्षेत्र के कोयला भंडार क्षेत्र में पेड़ों की कटाई को लेकर कांग्रेस-भाजपा, एक-दूसरे पर हमलावर हैं। कांग...

 

रायपुर । सरगुजा जिले के हसदेव अरण्य क्षेत्र के कोयला भंडार क्षेत्र में पेड़ों की कटाई को लेकर कांग्रेस-भाजपा, एक-दूसरे पर हमलावर हैं। कांग्रेस सरगुजा से गुजरने वाली राहुल गांधी की भारत जोड़ो न्याय यात्रा से पहले इसे बड़ा मुद्दा बनाने की कोशिश में है। हसदेव अरण्य के प्रभावितों से राहुल गांधी की मुलाकात कराने की तैयार में भी है। प्रदेश कांग्रेस संचार विभाग के अध्यक्ष सुशील आनंद शुक्ला ने कहा कि पूर्ववर्ती कांग्रेस सरकार ने विधानसभा में प्रस्ताव पारित कर हसदेव अरण्य, तमोर पिंगला और कोरबा के हाथी रिजर्व क्षेत्र के वनों में कोल ब्लाक आवंटन रद्द करने का संकल्प लिया था। उस समय केन्द्रीय कोयला मंत्री ने रायपुर में कहा था कि जहां पर कोल बेयरिंग एक्ट लागू होता है, वहां पेसा कानून के प्रविधान लागू नहीं होते हैं। केंद्र सरकार उस क्षेत्र में भी कोयले का खनन जारी रखेगी। भाजपा प्रदेश प्रवक्ता और सौरभ सिंह ने हसदेव-बांगो में पेड़ों की कटाई और जंगलों को मैदान में बदल देने के लिए तत्कालीन मुख्यमंत्री भूपेश बघेल और उप मुख्यमंत्री टीएस सिंहदेव से जवाब मांगा है। उन्होंने कहा कि आखिरकार राहुल गांधी, अशोक गहलोत और दोनों छत्तीसगढ़िया कांग्रेस नेताओं के बीच क्या डील हुई कि तत्काल जंगल कटाई के लिए अनुमति दे दी गई। भूपेश बघेल सरकार द्वारा दी गई जंगल कटाई की अनुमति की भी समीक्षा कर जनहित में निर्णय लिया जाएगा।

No comments