Page Nav

HIDE

Grid

GRID_STYLE

Pages

ब्रेकिंग

latest

सर्पदंश पर इलाज की सुविधा होगी आसान

  अंबिकापुर। कलेक्टर विलास भोसकर गुरुवार को जिले के दूरस्थ ग्राम मतरिंगा पहुंचे जहां उन्होंने ग्रामीणों से मुलाकात कर सीधा संवाद किया। उदयपु...

 

अंबिकापुर। कलेक्टर विलास भोसकर गुरुवार को जिले के दूरस्थ ग्राम मतरिंगा पहुंचे जहां उन्होंने ग्रामीणों से मुलाकात कर सीधा संवाद किया। उदयपुर विकासखंड के ग्राम मतरिंगा में चौपाल आयोजित कर कलेक्टर ने ग्रामीणों के साथ बैठकर उनसे स्वास्थ्य, पेंशन, पेयजल, राजस्व प्रकरणों के निराकरण सहित विभिन्न विषयों पर चर्चा की। कलेक्टर भोसकर ने चौपाल में ग्रामीणों से संस्थागत प्रसव एवं स्वास्थ्य सुविधाओं की जानकारी ली। उन्होंने बीएमओ को ग्रामीणों के हेल्थ चेकअप के लिए शिविर कराने के निर्देश दिए। उन्होंने टीबी संक्रमित मरीजों को आवश्यक दवा शीघ्र प्रदाय कराने भी निर्देशित किया। आगामी बारिश के मौसम के मद्देनजर सांप डंसने से बचाव और इलाज के लिए स्वास्थ्य केंद्र केदमा में जरूरी दवा उपलब्ध कराने के निर्देश दिए जिससे ग्रामीणों को उदयपुर न जाना पड़े। उन्होंने ग्रामीणों से राशन वितरण की जानकारी ली जिसमें उन्होंने बताया कि सितकालो गांव में राशन दुकान स्थित है जहां से ग्रामीण राशन लाते हैं।   कलेक्टर ने खाद्य निरीक्षक को निर्देशित किया कि राशन वितरण हेतु सितकालो ग्राम में स्थित राशन दुकान से वाहन के माध्यम से राशन गांव तक लाने की व्यवस्था बनाएं जिससे ग्रामीणों को आवागमन की समस्या से राहत मिले। इस दौरान उन्होंने गांव की रहने वाली पीजी गर्ल्स कालेज की छात्रा और स्कूली छात्राओं से बात कर पढ़ाई की जानकारी ली। ग्रामीणों द्वारा गांव में विद्युत आपूर्ति की समस्या से अवगत कराया गया जिस पर कलेक्टर ने क्रेडा के अधिकारी से बात कर तत्काल सोलर लाइट की सुविधा के लिए बैटरी की समस्या निराकरण के निर्देश दिए। उन्होंने पेयजल की उपलब्धता की जानकारी ली। ई पीएचई ने बताया कि पेयजल के स्त्रोत हेतु पांच बोरवेल कराए गए हैं। दैनिक कर्मों में पानी की उपलब्धता हेतु पंचायत के पास स्थित ढोढ़ी से पानी को पाइप के माध्यम से गांव तक लाया गया है। साथ ही डायवर्सन बांध के जरिए भी पानी की उपलब्धता आसान हुई है। कलेक्टर ने ग्रामीणों से राजस्व प्रकरणों के निपटारे, फौती नामांतरण, जाति प्रमाण पत्र, जन्म एवं मृत्यु प्रमाण पत्र बनाए जाने की जानकारी ली। उन्होंने स्कूली बच्चों से स्कूल में मध्यान्ह भोजन, गणवेश और किताबें मिलने के बारे में भी पूछा। कलेक्टर ने 16 जून से सभी स्कूलों के खुलने पर स्कूलों से सूची लेकर प्राथमिकता से जाति प्रमाण पत्र बनाए जाने की कार्रवाई हेतु तहसीलदार को निर्देश दिए। इसी तरह उन्होंने मनरेगा के तहत कार्य और श्रमिकों की जानकारी, प्रतीक्षा सूची में दर्ज लोगों के आवास निर्माण की प्रगति, नल जल कनेक्शन, मवेशियों के स्वास्थ्य, टीकाकरण और दवा के वितरण की जानकारी ली। इस दौरान एसडीएम उदयपुर बीआर खांडे सहित खंड स्तरीय अमला मौजूद रहें।

No comments