Page Nav

HIDE

Grid

GRID_STYLE

Pages

ब्रेकिंग

latest

किसान नियत्रंण कक्ष के लैंडलाइन नंबर 07752-470814 में काल कर जानकारी प्राप्त कर सकते हैं

बिलासपुर। कृषि विभाग ने किसानों की सुविधा के लिए बनाया नियंत्रण कक्ष, विभागीय अफसरों को दी जिम्मेदारी मानसून अब दस्तक देने लगा है। मौसम में ...

बिलासपुर। कृषि विभाग ने किसानों की सुविधा के लिए बनाया नियंत्रण कक्ष, विभागीय अफसरों को दी जिम्मेदारी मानसून अब दस्तक देने लगा है। मौसम में आ रहे बदलाव के साथ ही कृषि विभाग ने खरीफ फसल की तैयारी में जुटे किसानों की सुविधा व सहूलियत के लिए नियंत्रण कक्ष की स्थापना कर दी है।  नियंत्रण कक्ष की जिम्मेदारी विभाग के प्रमुख अफसरों को सौंप दी है। विभाग ने किसानों के लिए टोल फ्री नंबर भी जारी कर दिया है। इस पर काल करते ही विभाग के अधिकारी काल अटेंड करेंगे। किसान अपनी समस्या बताएंगे। उसके बाद विभागीय अफसर समस्याओं के निदान के साथ ही किसानों को जरूरी सलाह मशविरा भी देंगे।  कृषि विभाग ने खरीफ वर्ष के लिए बीज, उर्वरक, कीटनाशक औषधि एवं अन्य आदान सामग्री की जानकारी प्रदान करने के लिए जिला स्तरीय नियंत्रण कक्ष की स्थापना की है। जिले के किसान नियत्रंण कक्ष के लैंडलाइन नंबर 07752-470814 में काल कर जानकारी प्राप्त कर सकते हैं। नियत्रंण कक्ष में प्रतिदिन सुबह 10 से शाम 5.30 तक अधिकारी उपस्थित रहेंगे। नियंत्रण कक्ष के लिए सहायक संचालक कृषि अनिल कौशिक को नोडल अधिकारी . 9977106777, वरिष्ठ कृषि विस्तार अधिकारी पीएल उपाध्याय 7987333038, वरिष्ठ कृषि विस्तार अधिकारी वाईके श्रीवास्तव 9340437942, ग्रामीण कृषि विस्तार अधिकारी विजय धीरज 7587234863 को सहायक नोडल अधिकारी, उमेश कुमार कश्यप 7987159154, खेमराज शर्मा को सहायक अधिकारी 9602256368 एवं भृत्य प्रकाश को सहायक बनाया गया है। उप संचालक कृषि ने बताया कि खरीफ वर्ष 2024 के लिए कृषि आदान सामग्री जैसे बीज, उर्वरक, कीटनाशक औषधि, कल्चर एवं कृषि यंत्र इत्यादि के गुण नियंत्रण से संबंधित, भंडारण, वितरण एवं नमूना लेने प्रतिष्ठानों का निरीक्षण, छापामार कार्रवाई करने, रैक पाइंट से मार्कफेड के भंडारण केंद्रों मूवमेंट पर कड़ी निगरानी की जाएगी।सहकारी समितियों एवं निजी विक्रय केंद्रों के पास मशीन के माध्यम से उर्वरकों का विक्रय सुनिश्चित कराने तथा पास मशीन में भौतिक सत्यापन (स्टाक) एवं पास मशीन का मिलान करने के साथ ही गुण नियंत्रण एवं कीट नियंत्रण के लिए समय-समय पर क्षेत्र निरीक्षण कर सलाह देने के लिए जिला स्तरीय दल एवं नियत्रंण कक्ष की स्थापना की जाती है।

No comments