Page Nav

HIDE

Grid

GRID_STYLE

Pages

ब्रेकिंग

latest

सेवानिवृत्त प्रधान आरक्षक के इकलौते बेटे ने की फांसी लगाकर आत्महत्या

  भिलाई। दुर्ग पुलिस विभाग से सेवानिवृत्त प्रधान आरक्षक के इकलौते बेटे ने पेड़ से फांसी लगाकर आत्महत्या (Suicide) कर ली। वो रात में अपनी कार...

 

भिलाई। दुर्ग पुलिस विभाग से सेवानिवृत्त प्रधान आरक्षक के इकलौते बेटे ने पेड़ से फांसी लगाकर आत्महत्या (Suicide) कर ली। वो रात में अपनी कार लेकर घर से निकला था और सेंट थॉमस कॉलेज रोड रूआबांधा आकर पेड़ से गमछे का फंदा बनाकर फांसी लगा ली। आत्महत्या करने के पहले उसने अपने मोबाइल पर स्टेटस भी लगाया था कि वो अपने व्यक्तिगत कारणों से आत्महत्या कर रहा है, इसके लिए कोई जिम्मेदार नहीं है और उसके परिवार वालों को परेशान न किया जाए। भिलाई नगर पुलिस ने मामले की जांच शुरू की है। दरअसल, यह घटना सोमवार की रात की है। पुलिस ने बताया कि विद्युत चौक महाराजा चौक पद्मनाभपुर निवासी सेवानिवृत्त प्रधान आरक्षक रविंद्र पांडेय के बेटे जितेंद्र पांडेय उर्फ जीतू (32) ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। जितेंद्र पांडेय के दो बच्चे भी हैं। वहीं सेवानिवृत्त प्रधान आरक्षक रविंद्र पांडेय की तबीयत खराब होने के कारण वो अभी अस्पताल में भर्ती है। जितेंद्र पांडेय उर्फ जीतू सोमवार की रात को अपनी कार से घर से निकला था। उसके मोबाइल का स्टेटस देखने के बाद उसकी पत्नी और दोस्तों ने उसकी तलाश शुरू की थी कि मंगलवार की सुबह उस रोड से गुजरने वाले लोगों ने कार को सड़क किनारे लावारिस हालत में देखा तो उन्हें संदेह हुआ। जिसके बाद उन्होंने आसपास देखा तो पेड़ से जितेंद्र की लाश लटक रही थी। उसने गमछे का फंदा बनाकर आत्महत्या की। प्रारंभिक जांच में पता चला कि जितेंद्र पांडेय उर्फ जीतू जमीन से संबंधित काम करता था। वो अपने माता-पिता की इकलौती संतान था। परिवार में रुपयों से संबंधित भी कोई दिक्कत नहीं थी। फिर भी उसने आत्महत्या क्यों किया, इसके बारे में किसी को कुछ भी समझ नहीं आ रहा है।

No comments