Page Nav

HIDE

Grid

GRID_STYLE

Pages

ब्रेकिंग

latest

छत्‍तीसगढ़ में इस सत्र से राष्ट्रीय शिक्षा नीति लागू

रायपुर। उच्च शिक्षा विभाग की तरफ से शैक्षणिक कैलेंडर जारी कर दिया गया है। इसके मुताबिक इस वर्ष कॉलेजों में कुलपति की विशेष अनुमति से 31 जुल...

रायपुर। उच्च शिक्षा विभाग की तरफ से शैक्षणिक कैलेंडर जारी कर दिया गया है। इसके मुताबिक इस वर्ष कॉलेजों में कुलपति की विशेष अनुमति से 31 जुलाई तक प्रवेश हो सकेंगे। पिछले वर्ष तक 14 अगस्त तक छात्रों को प्रवेश दिया जाता था। वहीं इस बार 14 दिन की कटौती की गई है। विभाग की तरफ से संशोधित शैक्षणिक कैलेंडर दोबारा जारी किया गया है। कॉलेजों में प्रवेश प्रक्रिया शुरू है। पंडित रविशंकर शुक्ल विश्वविद्यालय से संबद्ध कॉलेजों में पहली मेरिट सूची जारी कर दी गई है। इसके मुताबिक छात्र-छात्राएं प्रवेश ले रहे हैं। सात जुलाई के बाद दूसरी मेरिट सूची जारी की जाएगी।

जानकारों के मुताबिक प्रदेश में इस शिक्षा सत्र से राष्ट्रीय शिक्षा नीति लागू की गई है। इस वजह से उच्च शिक्षा विभाग की तरफ से प्रवेश के दिन घटाए गए हैं, ताकि समय से कॉलेजों में पढ़ाई शुरू हो सकें। उच्च शिक्षा विभाग की तरफ से जारी कैलेंडर के अनुसार एक जुलाई से कक्षाएं शुरू होना है, लेकिन प्रथम वर्ष में अभी प्रवेश प्रक्रिया चल रही है। इस वजह से यूजी प्रथम वर्ष की कक्षाएं शुरू हो पाना संभव नहीं है। दूसरे और तीसरे वर्ष की कक्षाएं शुरू हो जाएंगी। हर वर्ष उच्च शिक्षा विभाग की तरफ से कैलंडर में एक जुलाई से कक्षाएं शुरू होने की तिथि निर्धारित रहती है, लेकिन ये कभी संभव नहीं हो पाया है। इसके बावजूद विभाग की तरफ से अभी तक इसमें कोई परिवर्तन नहीं है।

संशोधित शैक्षणिक कैलेंडर के मुताबिक कॉलेजों में सिर्फ दो चरणों में ही प्रवेश होंगे। दूसरे चरण की मेरिट सूची सात से नौ जुलाई के बीच होगी। इसके बाद छात्रों को प्रवेश लेने के लिए एक सप्ताह का समय दिया जाएगा। 15 से 25 जुलाई तक खाली सीटों पर कॉलेज अपने स्तर से प्रवेश दे सकेंगे। कुलपति की विशेष अनुमति से 31 जुलाई तक प्रवेश दिए जाएंगे।

साइंस का कटआफ 80 प्रतिशत से ऊपर

पंडित रविशंकर शुक्ल विश्वविद्यालय से संबद्ध कॉलेजों में प्रवेश के लिए कुछ दिन पहले ही पहली मेरिट सूची जारी की गई है। शहर के ऑटोनामस कॉलेजों में साइंस संकाय में प्रवेश 80 प्रतिशत से ज्यादा कटआफ है। बीएससी मैथ्स के लिए कालीबाड़ी स्थित डिग्री गर्ल्स कॉलेज में 82.6 प्रतिशत, साइंस कालेज में 83.3 और छत्तीसगढ़ कॉलेज में 88 प्रतिशत कटआफ रहा।

बॉयो का कटआफ भी 80 प्रतिशत से अधिक रहा। हालांकि आरक्षित वर्ग का कटआफ कुछ कम रहा है। इसके अलावा शहर के प्रमुख अन्य कॉलेजों में साइंस के लिए 70 प्रतिशत, कामर्स 65 और आर्ट्स 60 प्रतिशत कटआफ रहा है। यूजी प्रथम वर्ष में प्रवेश के लिए बारहवीं में मिले अंकों के अनुसार मेरिट सूची तैयार की जाती है।

No comments