Page Nav

HIDE

Grid

GRID_STYLE

Pages

ब्रेकिंग

latest

*ईडी रेड के बाद जमकर बरसे सीएम भुपेश बघेल, बोले- भाजपा का काम सरकारों को अस्थिर करना*

रायपुर। छत्तीसगढ़ में ईडी (प्रर्वतन निदेशालय) के छापे पर एक बार फिर राजनीति गरमाने के आसार हैं। आज तड़के सुबह ईडी ने फिर एक आईएएस, राजनेता और ...



रायपुर। छत्तीसगढ़ में ईडी (प्रर्वतन निदेशालय) के छापे पर एक बार फिर राजनीति गरमाने के आसार हैं। आज तड़के सुबह ईडी ने फिर एक आईएएस, राजनेता और पूर्व विधायक समेत कई कारोबारियों के ठिकानों पर ईडी (प्रवर्तन निदेशालय) की टीम ने दबिश दी है। ईडी की टीम सुबह छह बजे रायपुर व भिलाई स्थित अफसरों, नेताओं और व्यापारियों के ठिकानों पर पहुंची। जिसके बाद अब मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने ईडी व इन्कम टैक्स डिपार्टमेंट के छापों को लेकर भाजपा पर हमला बोला है।


उन्होंने कहा कि भाजपा के पास सेंट्रल एजेंसी ही हथियार है। वे यहां लड़ नहीं पा रहे हैं, इसलिए सेंट्रल एजेंसी का इस्तेमाल कर रहे हैं। भाजपा का काम सरकारों को अस्थिर करना है। उन्होंने कहा कि भाजपा छत्तीसगढ़ में लड़ नहीं पा रही है। लगातार पदाधिकारी बदले जा रहे हैं। इसलिए सेंट्रल एजेंसियों को हथियार की तरह इस्तेमाल किया जा रहा है। कोरबा रवाना होने से पहले सीएम बघेल ने हेलीपैड पर पत्रकारों से चर्चा में ये बातें कहीं। उन्होंने शरद पवार के निधन पर श्रद्धांजलि दी है।


सीएम ने कहा कि उन्होंने पहले ही कहा था कि चुनाव तक ईडी की टीम यहां रहेगी। यही होता हुआ दिख रहा है। जहां-जहां चुनाव होते हैं, वहां-वहां ईडी के छापे पड़ते हैं। यहां सरकार को बदनाम करने की कोशिश हो रही है। अधिकारी-कर्मचारियों को डराने का काम किया जा रहा है। स्मार्ट सिटी में भ्रष्टाचार पर सीएम ने कहा, भाजपा के कार्यकाल में हुए भ्रष्टाचार की जांच क्यों नहीं होती? केंद्र की टीम रमन सरकार में हुए भ्रष्टाचार की जांच करे। भाजपा के नेता उसकी शिकायत करें। चिटफंड में कितना बड़ा घोटाला हुआ। चिटफंड घोटाले की जांच ईडी क्यों नहीं करती?


बता दें कि शुक्रवार को सुबह ईडी ने राजधानी रायपुर, भिलाई व महासमुंद में कई ठिकानों पर दबिश दी है। इनमें आईएएस व पूर्व खनिज सचिव अन्बलगन पी., पूर्व विधायक व बीज निगम के अध्यक्ष अग्नि चंद्राकर, स्वतंत्र जैन व विपुल पटेल आदि से जुड़े परिसर शामिल हैं।

No comments