Page Nav

HIDE

Grid

GRID_STYLE

Pages

ब्रेकिंग

latest

*भागवत कथा का शुभारंभ : ज्ञान, वैराग्य के बिना भक्ति निरर्थक, ईश्वर निराकार है और कृष्ण नराकार, प्रख्यात पंडित डॉ. श्यामसुन्दर पाराशर*

  रायपुर। दुर्ग जिले के भिलाई नगर स्थित शंकराचार्य मेडिकल कॉलेज के सभागृह में 22 मार्च से एक सप्ताह भागवत कथा का आयोजन किया जा रहा है। देश क...

 


रायपुर। दुर्ग जिले के भिलाई नगर स्थित शंकराचार्य मेडिकल कॉलेज के सभागृह में 22 मार्च से एक सप्ताह भागवत कथा का आयोजन किया जा रहा है। देश के प्रख्यात कथा वाचक पंडित श्यामसुन्दर पाराशर जी के मुखारविंद से भगवत कथा का रसपान करवाया जा रहा है। दोपहर 3 बजे से 7 तक भगवत कथा समय निर्धारित किया गया है। 



इस अवसर पर भगवत कथा के पहले दिन, पूज्य श्यामसुन्दर पाराशर जी महाराज ने गौकर्ण कथा का अद्भुत वर्णन करते हुए बताया कि कैसे आत्मदेव और धुंधली का जीवन बिन संतान के गुजर रहा था, और किस तरह से ऋषि द्वारा फल पुत्र प्राप्ति के लिए दिया गया. धुंधली द्वारा फल को गाय को खिलाया गया जिससे गौकर्ण का जन्म हुआ। इस तरह पहले दिन भक्तों ने पाराशर जी के मुखारविंद से भगवत कथा का रसपान किया। 



बता दें, भव्य भगवत कथा का आयोजन श्री शंकराचार्य इंस्टिट्यूट ऑफ़ मेडिकल साइंस के चेयरमैन आई.पी. मिश्रा द्वारा करवाया जा रहा है। चैत्र नवरात्र के पहले दिन से आयोजित यह एक सप्ताह भगवत कथा का 28 मार्च को समापण होगा। 



No comments