Page Nav

HIDE

Grid

GRID_STYLE

Pages

ब्रेकिंग

latest

119 गांजा तस्करों से 1248 किलो गांजा बरामद कर चुकी है आरपीएफ

  बिलासपुर । आरपीएफ का आपरेशन नारकोस सफल रहा। इस अभियान की शुरूआत से लेकर अब तक 18 महीने में 119 गांजा तस्करों से 1248 किलो गांजा बरामद कर च...

 

बिलासपुर । आरपीएफ का आपरेशन नारकोस सफल रहा। इस अभियान की शुरूआत से लेकर अब तक 18 महीने में 119 गांजा तस्करों से 1248 किलो गांजा बरामद कर चुकी है। लगातार जांच व कार्रवाई से गांजा तस्करों में खौफ भी आया है। यह अभियान आगे भी जारी रहेगा। रेल के माध्यम से नशीले पदार्थों की तस्करी के खिलाफ इस अभियान की शुरूआत जून-2022 में किया गया था। रेलवे सुरक्षा बल दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे ने ड्रग तस्करों को निशाना बनाने के लिए नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो और अन्य कानून प्रवर्तन एजेंसियों के समन्वय से देशभर में ट्रेनों व चिंह्नित ब्लैक स्पाट में अपनी जांच तेज़ कर दी। कानून प्रवर्तन एजेंसी के तौर पर रेलवे सुरक्षा बल ने हाल के दिनों में आपरेशन नारकोस के अंतर्गत महत्वपूर्ण उपलब्धियां भी हासिल की। रेलवे सुरक्षा बल, दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे अभी तक अपने कार्याधिकार क्षेत्र के भीतर एनडीपीएस ले जाने वाले 119 व्यक्तियों को गिरफ्तार किया है और इन्हें आगे की कानूनी कार्रवाई के लिए संबंधित कानून प्रवर्तन एजेंसियों को सौंपा। दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे यात्रियों और सामानों के परिवहन में अग्रणी भूमिका निभाता है। इसके व्यापक नेटवर्क के कारण अपराधियों द्वारा अक्सर लंबी दूरी की ट्रेनों का उपयोग एनडीपीएस को आम यात्रियों के रूप में ड्रग कैरियर्स को छिपाने के लिए विभिन्न राज्यों में तस्करी के लिए किया जाता है। रेलवे सुरक्षा बल को अप्रैल 2019 से एनडीपीएस अधिनियम के तहत तलाशी, जब्ती और गिरफ्तारी करने का अधिकार दिया गया है। इसे प्रतिबंधित करने के लिए सरकार के प्रयासों में सक्रिय रूप से सहभागी बन रहा है। नशीले पदार्थ न केवल युवाओं के स्वास्थ्य को खराब करते हैं, बल्कि इससे अर्थव्यवस्था और राष्ट्र के हित को भी नुकसान पहुंचाते हैं।

No comments