Page Nav

HIDE

Grid

GRID_STYLE

Pages

ब्रेकिंग

latest

मंत्री केदार बोले- पाकिस्तान की भाषा बोल रहे कांग्रेसी

  बालोद। पीएम नरेंद्र मोदी के खिलाफ विवादित बयान देने के मामले में कांग्रेस प्रत्‍याशी कवासी लखमा पर हुए एफआइआर और राहुल गांधी के छत्तीसगढ़ द...


  बालोद। पीएम नरेंद्र मोदी के खिलाफ विवादित बयान देने के मामले में कांग्रेस प्रत्‍याशी कवासी लखमा पर हुए एफआइआर और राहुल गांधी के छत्तीसगढ़ दौरे को लेकर मंत्री केदार कश्यप ने टिप्‍पणी की है। केदार कश्‍यप ने बालोद में कहा, कांग्रेस पार्टी कवासी लखमा को टूल किट के रूप में उपयोग कर रही है। कश्यप ने कहा, नरेंद्र मोदी जी को गाली देने वाले में खालिस्तानी, पाकिस्तानी, आतंकवादी हो सकते है, तो क्या हम ये समझे कांग्रेस पार्टी के लोग पाकिस्तानियों की भाषा बोल रहे हैं या आतंकवादियों की भाषा बोल रहे हैं। चुनाव आयोग ऐसे हेट स्पीच करने वालों के खिलाफ कड़ी से कड़ी कार्रवाई करें। केदार कश्यप ने राहुल गांधी के छत्तीसगढ़ दौरे को लेकर भी प्रतिक्रिया दी है। उन्होंने कहा कि राहुल गांधी अपनी जमीन तलाशने आये हैं, लेकिन उनकी जमीन खिसक चुकी है और छत्तीसगढ़ की जनता उन्हें पूरी तरह नकार चुकी है। देश की जनता भी उन्हें नकार चुकी है। इसीलिए कभी वो अमेठी से वायनाड की ओर भगाते हैं तो आने वाले समय में वो वायनाड से भी भागेंगे। आने वाले समय में राहुल गांधी की भारत में रहने के लायक स्थिति नहीं बनेगी। दरअसल आज शनिवार को देश के रक्षा मंत्री और भाजपा के स्टार प्रचारक राजनाथ सिंह बालोद में विशाल जनसभा को संबोधित करेंगे। जिसमें भाजपा के कई दिग्गज नेता शामिल रहेंगे। मंत्री केदार कश्यप भी लगातार कार्यक्रम में व्यवस्थाओं का जायजा ले रहे है।मंत्री केदार कश्यप ने कन्हैया कुमार पर निशाना साधते हुए कहा, हमारे यहां ऐसे नेता है जो देशहित की बात करते हैं। दूसरी ओर कांग्रेस उन नेताओं को भेजती है जो देश को तोड़ने के पक्षधार रहते हैं, जो अफजल गुरु को सहयोगी बताते हैं। जो सेना के ऊपर टिप्पणी करते हैं। माता-बहनों के साथ बलात्कार करते हैं। ये उनके व्‍यक्तित्‍व होते हैं, ऐसे कन्हैया कुमार दुकड़े-टुकड़े गैंग के साथ खड़े दिखाई देते हैं। उनको इस छत्तीसगढ़ की धरती पर जहर घोलने के लिए भेजा जाता हैं। तो निश्चित तौर पर छत्तीसगढ़ के लोग इतने बेवकूफ नहीं है, वो सब समझते हैं। आने वाला परिणाम में छत्तीसगढ़ में 11 सीट भाजपा जीतेगी।

No comments