Page Nav

HIDE

Grid

GRID_STYLE

Pages

ब्रेकिंग

latest

लाखों रुपए की ऑनलाइन ठगी, ओटीपी नंबर से खाली हुआ खाता

  सूरजपुर। साइबर ठगी की बढ़ती घटनाओं के बीच इस बार बीते शनिवार को बिश्रामपुर निवासी परिवहन ठेकेदार अजय पाल सिंह करीब 6 लाख रुपए की ऑनलाइन ठग...

 

सूरजपुर। साइबर ठगी की बढ़ती घटनाओं के बीच इस बार बीते शनिवार को बिश्रामपुर निवासी परिवहन ठेकेदार अजय पाल सिंह करीब 6 लाख रुपए की ऑनलाइन ठगी का शिकार हो गए। उन्होंने ठगी की शिकायत सूरजपुर कोतवाली परिसर स्थित साइबर सेल में दर्ज कराई है। ऑनलाइन फ्रॉड के शिकार पप्पू सिंह उर्फ अजय पाल सिंह ग्राम पचिरा स्थित त्रिवेणी ट्रांसपोर्ट के संचालक हैं। उन्होंने बीते 7 अगस्त को आईडीबीआई बैंक सूरजपुर में 12968 रुपये का चेक क्लियरेंस के लिए जमा किया था। चेक क्लियरेंस की जानकारी लेने के लिए उन्होंने बीते शनिवार को गूगल के जरिए बैंक का कांटेक्ट नंबर सर्च कर संबंधित नंबर पर जानकारी लेने के लिए कॉल किया। जवाब में उन्हें एक अन्य नंबर पर बात करने के लिए कहा गया। संबंधित नंबर से ऑनलाइन फ्रॉड करने वाले व्यक्ति ने अजय पाल से चर्चा कर उसे अपने झांसे में लेकर एक ऐप डाउनलोड कराया। आधार कार्ड का नंबर लेने के बाद ओटीपी नंबर की जानकारी लेने के बाद आरोपित ने अजय पाल सिंह के यूनियन बैंक सूरजपुर के खाते से तीन बार में 5 लाख 91 हजार रुपये आहरण कर लिए। इस दौरान आरोपित द्वारा अजय पाल का मोबाइल हैक कर लिए जाने के कारण उनका मोबाइल बंद हो गया। ऑनलाइन फ्रॉड का शिकार होने की जानकारी मिलते ही परिवहन ठेकेदार अजय पाल सिंह ने तत्काल संबंधित बैंक के साथ ही सूरजपुर पुलिस को ठगी का शिकार होने की जानकारी दी। उसके बाद उन्होंने साइबर सेल में अपनी शिकायत दर्ज करा दी है। बता दें कि पुलिस द्वारा चलाए जा रहे जागरूकता अभियान के बाद भी सूरजपुर जिले में आए दिन लोग ऑनलाइन ठगी का शिकार हो रहे हैं। वही पुलिस द्वारा बार-बार लोगों से अपील की जा रही है कि मोबाइल पर किसी भी व्यक्ति को अपने बैंकिंग संबंधी कोई भी जानकारी ना दें।

No comments